गन्ना की कीमत: इस सप्ताह के अंत में इंतजार खत्म हो सकता है, नेताओं ने लोकसभा चुनाव के लिए कीमत वृद्धि की जरूरत बताई है.

यूपी में किसानों ने गन्ना की कीमत बढ़ाने की मांग की है। प्रदेश के मंत्री ने बताया कि इस पर जल्द ही निर्णय हो सकता है।

पेराई सत्र तीन महीने से अधिक से चल रहा है, लेकिन सरकार ने 2022-2023 का गन्ना का कीमत अभी तक घोषित नहीं किया है। किसानों ने लागत बढ़ने के कारण कीमत बढ़ोतरी की मांग की है। गन्ना मंत्री ने मुख्यमंत्री के साथ चर्चा की है और सप्ताह में कीमत बढ़ोतरी की घोषणा करने को कहा है।

प्रदेश में 120 चीनी मिलों से साठ लाख से ज्यादा गन्ना किसान हैं। अभी तक गन्ना की कीमत को घोषित नहीं किया गया है, इसलिए किसानों को पिछले साल की दर से 340-350 रुपये प्रति क्विंटल के रूप में पेश कर रहे हैं। किसानों की मांग को देखते हुए सांसद और नेता कह रहे हैं कि अगले वर्ष की कीमत बढ़ानी जरूरी है, क्योंकि अगले वर्ष के चुनाव से संबोधित किया जा सकता है। इसलिए इस वर्ष कुछ न कुछ कीमत बढ़ोतरी की जानी चाहिए।

caneup rate in uttar pradesh 2023 update
caneup rate in uttar pradesh 2023 update

पूर्व समिति अध्यक्ष डॉ. अरविंद सिंह का कहना है कि पेराई का सत्र शुरू हो चुका है और मिलों को लाभ देने और किसानों की लागत को देखते हुए कीमत बढ़ने की जरूरत है।

ये भी पढ़ेंcane up.in Price 2022 23: क्या है गन्ने का रेट ?

ये भी पढ़ेंगन्ना की कीमत: इस सप्ताह के अंत में इंतजार खत्म हो सकता है, नेताओं ने लोकसभा चुनाव के लिए कीमत वृद्धि की जरूरत बताई है.

ये भी पढ़ें दुनिया की सबसे अच्छी 10 कृषि उद्योग

ये भी पढ़ें PM Kisan 13th Installment

राकेश टिकैत का कहना है कि पंजाब में गन्ने का दाम 380 रुपये प्रति क्विंटल है, जो कि यूपी में 450 रुपये की दर से कम है। इससे किसानों को नुकसान होगा, साथ ही मिलों को भी लाभ नहीं होगा।

केंद्रीय पशुधन मंत्री बालियान का कहना है कि गन्ने के दाम बढ़ने की बात कई बार कही गई है, जो बढ़े हो उसे बढ़ाना जरूरी है।

Leave a Comment